in

जानिये शनिवार के दिन क्या खरीदना शुभ है या अशुभ

नई दिल्ली।

भगवान शनि देव को खुश करने के लिए लोग कई तरह के जतन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र या सनातन धर्म में यह मान्यता है कि अगर आपके जीवन में शनि आपसे प्रसन्न है, तो आपके लिए सुख और समृद्धि  का सागर भरा पड़ा है। लेकिन, अगर शनि आपसे प्रसन्न नहीं है, तो आपकी तरक्की या सुख के रास्ते बंद हो जाते है।

इसलिए, ज्योतिष शास्त्र के मुतबाकि शनि को प्रसन्न करने के लिए कई नियमों का पालन करना पड़ता  है। खासकर शनि के दिन यानि कि शनिवार के दिन सामान खरीदते समय कुछ चीजों को खरीदने से बचान चाहिए। इस दिन लोहा खरीदना अशुभ माना जाता है और इसे दान करना शुभ। 

  • शनिवार के दिन लोहा और लोहे से बनी कोई चीज खरीदने को अशुभ माना जाता है। इस से घर में कलह और रिश्तों में कड़वाहट आती है।
  • इस दिन लोहे से बनी चीजों का दान करने से शनि देव की कोप दृष्टि निर्मल होती है और घाटे में चल रहा व्यापार मुनाफा देने लगता है। साथ ही शनि देव यंत्रों से होने वाली दुर्घटना से भी बचाते हैं।
  • शनिवार को नमक खरीदने से घर में दरिद्रता आती है। यह भी माना जाता है कि इससे व्यापर में घाटा, क़र्ज़, लोन, और शेयर मार्किट में लॉस हो सकता है।
  • शनिवार को सरसों का तेल खरीदने से शनिदेव नाराज़ हो जाते हैं और इससे सेहत पर बुरा असर पड़ता है। शनिवार को तेल खरीदने से किसी बड़ी बीमारी की चपेट में आने का खतरा रहता है।
  • शनिवार के दिन कैंची खरीदने, उपयोग या गिफ्ट करने से बचना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि शनिवार को कैंची को हाथ लगाना भी वर्जित माना गया है। इससे घर में और दोस्तों के साथ लड़ाई होती है।
  • झाड़ू लगाने से नेगेटिव एनर्जी घर से बाहर जाती है और पॉजिटिव एनर्जी आती है। लेकिन भूल से भी शनिवार के दिन झाड़ू नहीं खरीदनी चाहिए। इससे घर में गरीबी आती है।
  • शनिवार को काले रंग के जूते ना खरीदने चाहिए और ना ही भेंट में लेना चाहिए क्‍योंकि इससे पहनने वाले को हर कार्य में असफलता मिलती है और नौकरी जाने का भी खतरा होता है।
  • शनिवार को इंक खरीदने या इस्तेमाल करने को पढ़ाई और करियर के लिए अशुभ माना गया है। इससे पढाई में नुकसान होता है और परीक्षा में बुरा परिणाम देखने को भी मिल सकता है।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

Test language Hindi

जिला स्तरीय ग्रीष्मोत्सव घुमारवीं 2021 का आयोजन 05 अप्रैल से 09 अप्रैल 2021 तक किया जाएगा