in , , , , ,

बिलासपुर : शिवा परियोजना के तहत किए जा रहे 30 अग्रिम पंक्ति प्रदर्शन स्थल स्थापित – मंत्री राजिन्द्र गर्ग 

बिलासपुर।

हिमाचल प्रदेश शिवा परियोजना के अंतर्गत उद्यान विभाग द्वारा छिब्बर गांव में आयोजित फल, पौध रोपण कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने मौसमी का पौधा रोपित किया।
परियोजना के तहत लगभग 1100 पौधों का रोपण किया जाएगा।

उन्होंने किसानों और बागवानों के साथ चर्चा करते हुए कहा कि शिवा परियोजना के तहत जिला बिलासपुर में 30 अग्रिम पंक्ति प्रदर्शन स्थल स्थापित किए जा रहे है जिसका शुभारम्भ छिब्बर गांव से किया जा रहा है। इस समूह में लगभग 1100 पौधों का रोपण किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अंग्रिम पंक्ति प्रदर्शन स्थल के रुप में एक हैक्टेयर भूमि पर लगभग 1120 उन्नत प्रजाति के संतरे (जाफल तथा ब्लड रेड) के पोधे लगाए जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत 10-15 हैक्टेयर भूमि में पौध रोपण किया जाऐगा।
इस अग्रिम पंक्ति प्रदर्शन स्थलों में वर्ष 2021-22 में लगभग 23595 संतरे, 5141 अमरूद, 1015 लीची तथा 2253 अनार के पौधों का रोपण किया जाएगा ताकि किसानों को आधुनिक बागवानी के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

चार विधानसभा क्षेत्रों में चलाई जा रही ये परियोजना

यह परियोजना जिला के चार विधानसभा क्षेत्रों में चलाई जा रही है जिसके अंतर्गत लगभग 6000 हैक्टेयर क्षेत्रफल में लाया जाएगा व लगभग 1100 से 1200 किसान परिवार इस परियोजना के तहत लाभान्वित होंगे। इसी कड़ी में उद्यान विभाग द्वारा 55 समूहों का चयन कर लिया गया है। इसके अतिरिक्त किसानों को फलदार पौधे भी निःशुल्क वितरित किए जा रहे है।

उन्होंने कहा कि शिवा परियोजना में किसानों को पौध रोपण के अतिरिक्त जंगली जानवरों और बंदरों से बगीचों की रक्षा करने के लिए विभाग द्वारा कोम्पोजिट फेंसिंग की जा रही है। जल शक्ति विभाग के सहयोग से पौधों की सिंचाई की व्यवस्था व टपक सिंचाई प्रणाली के माध्यम से सिंचाई की व्यवस्था भी विभाग द्वारा की जा रही है।

उन्होंने कहा कि यह परियोजना किसानों और बागवानों को आत्मनिर्भर बनाने के साथ उनकी आर्थिकी को भी मजबूत करने की दिशा में कारगर साबित होगी।

कोरोना के दौर में गरीबों परिवारों को दिया जा रहा निःशुल्क आटा-चावल

उन्होंने कहा कि कोरोना काल के इस संकट के दौर में भी प्रदेश और केन्द्र सरकार किसानों और गरीबों के लिए गरीब कल्याण योजना के माध्यम से 5-5 किलोग्राम आटा और चावल मुहैया करवा रही है। इस योजना का लाभ गरीब परिवारों को दीपावली तक जारी रहेगा। इस योजना के तहत देश के 80 करोड़ लोगों को फायदा पहुंचाया जा रहा है।

किसान जीरो बजट खेती को अपनाए

राजिन्द्र गर्ग ने किसानों को जीरो बजट की खेती अपनाने का आहवान किया और रसायनिक खादों और दवाईयों से परहेज करते हुए वैज्ञानिक तरीके से खेती करने का भी आग्रह किया। उन्होंने युवाओं को नगदी फसलों के लिए प्रेरित किया ताकि युवा स्वरोजगार की दिशा में आगे बढ़ते हुए आत्मनिर्भर बन सके।

उन्होंने छिब्बर गांव के किसान किश्न लाल वर्मा द्वारा बागवानी क्षेत्र में बेहतरीन कार्य करने के लिए उनकी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि छिब्बर आर्दश गांव के रुप में उभरा है जिसका श्रेय किसान किश्न लाल वर्मा को जाता है। खाद्य आपूर्ति मंत्री ने कहा कि निकट भविष्य में इस क्षेत्र में कोल्ड स्टोर और फूड प्रोसैसिंग प्लांट लगाने की तैयारी की जा रही है।

इस अवसर पर उद्यान विभाग की उपनिदेशिका डाॅ. माला शर्मा ने मुख्यातिथि को सम्मानित करते हुए जिले में पायलट प्रोजेक्ट के माध्यम से 2020-21 में मझेड़, दुल्हेत, तलवाड़ा तथा लंझता में उन्नत किस्म का संतरा, लीची तथा अमरूद के बगीचे लगाए गए है जिसके तहत 51186 पौधे रोपिए कर 130 परिवार लाभान्वित हुए है।

कार्यक्रम में मण्डलाध्यक्ष सुरेश ठाकुर, भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्षा कमलेश ठाकुर, पंचायत प्रधान पदमावती शर्मा, कलस्टर प्रधान किश्न लाल वर्मा, युवा मोर्चा अध्यक्ष और विभाग की उपनिदेशक डाॅ. माला शर्मा सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

बिलासपुर : नाबार्ड के 40वें स्थापना दिवस पर धौनकोठी में किया गया वृक्षारोपण किया – सतपाल चौधरी

चंबा : पेशी के लाया गया दुष्कर्म का आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार