in ,

हेल्थ सेंटर बनाने में हिमाचल सबसे पिछड़ा, पंजाब आगे

स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के गृह राज्य हिमाचल प्रदेश में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों की स्थिति सबसे पिछड़ी है। जबकि पंजाब और चंडीगढ़ में सबसे बेहतर प्रयास किए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशभर में आयुष्मान भारत योजना के तहत खोले जा रहे हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों की स्टेट्स रिपोर्ट जारी की है।

इसके अनुसार बीते 30 नवंबर तक पंजाब और चंडीगढ़ में 80 फीसदी से ज्यादा सेंटरों की स्थापना हुई है। जबकि हिमाचल प्रदेश में 20 फीसदी से भी कम सेंटर खोले गए हैं।

2022 तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में डेढ़ लाख हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों के शुरू होने का लक्ष्य दिया है। ऐसे में राज्यों को सलाह दी जा रही है कि वे ज्यादा से ज्यादा हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों को खोल मधुमेह, कैंसर और योग पर काम करें।

रिपोर्ट के अनुसार हरियाणा को 672 सेंटर खोलने का लक्ष्य दिया था जिसमें से 467 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का लाभ जनता को मिल रहा है। जबकि हिमाचल प्रदेश के लिए तय किए 523 सेंटरों के लक्ष्य में 39 ही शुरू हो पाए हैं।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की चौथी रिपोर्ट भी आई पॉजिटिव

मणिमहेश लंगर कमेटी भराड़ी के सदस्य बने जरूरतमंद लोगों का सहारा